Indiaexam

All India Jobs and General Knowledge

Rajasthan Knowledge

राजस्थान का भुगोल : परिचय

  • बसन्तगढ़ – सिरोही के इस स्थान पर राजस्थान (राजस्थानीयादित्व) शब्द का सबसे प्राचीन लिखित प्रमाण सीमल (खीमल) माता के मन्दिर में उत्कीर्ण विक्रम संवत 682 के शिलालेख में मिलता है।
  • मुहणौत नैणसी- इस राजस्थानी साहित्यकार ने अपने ग्रंथ ‘नैणसी री ख्यात’ राजस्थान शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग किया गया
  • इसे साहित्यक दृष्टि से राजस्थान शब्द का प्रथम ऐतिहासिक स्त्रोत्र मानते है।
  • जॉर्ज थॉमस (आयरलैड)- राजस्थान के लिए 1800 र्इ. में सर्वप्रथम राजपुताना शब्द का प्रयोग किया,
  • इनकी मृत्यु बीकानेर मे हुर्इ थी।
  • विलियम फ्रेंकलिन – इनके द्वारा लिखी गर्इ मिलट्री मेमोयार्स ऑॅफ जॉर्ज थॉमस पुस्तक को राजपुताना शब्द का सर्वप्रथम लिखित प्रमाण माना जाता है।
  • कर्नल जेम्स टॉड – राजस्थान के पुरातत्वविज्ञ व साहित्यकार, 1829 र्इ. में अपनी पुस्त्क “एनाल्स एंड एंटीक्विटीज ऑफ राजस्थान राजपुताना भू-भाग के लिए सर्वप्रथम राजस्थान, रजवाडा व रायथान शब्दो का प्रयोग किया
  • 26 जनवरी 1950 को सत्यनारायण राव समिति की सिफारिश पर भारत सरकार ने राजस्थान शब्द को सवैधानिक तौर पर मान्यता दी।
  • राजस्थान क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा राज्य है।
  • राजस्थान का क्षेत्रफल 3,42,239.74 वर्ग किमी. है जो सम्पूर्ण देश के क्षेत्रफल का 41 प्रतिशत है।
  • राजस्थान भारत का सबसे बड़ा राज्य है।
  • राजस्थान राज्य का आकार विषमकोणीय चतुभ्रुज के समान है
  • राजस्थान भारत के उत्तर-पश्चिमी भाग में स्थित है।

राजस्थान के क्षेत्रफल की दृष्टि से वृहत् जिले– 

  1. जैसलमेर – 38401 वर्ग किमी.
  2. बाड़मेर – 28387 वर्ग किमी.
  3. बीकानेर – 27244 वर्ग किमी.
  4. जोधपुर – 22850 वर्ग किमी.
  • राजस्थान का क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा जिला धौलपुर (3034 वर्ग किमी.) है।
  • जबकि राज्य का दूसरा सबसे छोटा जिला ‘दौसा’ (3432 वर्ग किमी.) है

 

स्थिति एवं विस्तार

  • स्थिति अक्षांशीय स्थिति:- राजस्थान भारत के उत्तरी पश्चिमी भाग में 2303 उत्तरी अक्षांश से 30012 उत्तरी अक्षांश (अक्षांषीय विस्तार 709’)तथा
  • देशान्तरीय स्थिति:- 69030 पूर्वी देशान्तर से 78017 पूर्वी देशान्तर के मध्य स्थित है (विस्तार 8047)।
  • राजस्थान राज्य का अधिकांश भाग कर्क रेखा के उत्तर में स्थित है।
  • कर्क रेखा राज्य के डूंगरपुर जिले की दक्षिणी सीमा से होती हुर्इ बाँसवाड़ा जिले के लगभग मध्य से गुजरती है।
  • बाँसवाड़ा कर्क रेखा के सर्वाधिक नजदीक शहर है।
  • कर्क रेखा के उत्तर मे होने के कारण जलवायु की दृष्टि से राज्य का अधिकांश भाग उपोष्ण या शीतोष्ण कटिबंध में स्थित।

 

  • विस्तार राजस्थान राज्य की उत्तर से दक्षिण तक की लम्बार्इ 826 किमी. है
  • उत्तर में गंगानगर जिले के कोणा गांव से दक्षिण में बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ तहसिल के बोरकुण्ड गांव की सीमा तक है।
  • राज्य की पूर्व से पश्चिम तक चौड़ार्इ 869 किमी. है जिसका विस्तार पश्चिम में जैसलमेर जिले के कटरा गांव (सम) से पूर्व में धौलपुर जिलेराजाखेड़ा तहसिल के सिलाना गांव तक है।
  • टी.एच. हेण्डले प्रथम विद्वान थे जिन्होने राजस्थान कि आकृति विशम-कोणिय चतुर्भुज अर्थात पंतगाकार है।
  • राजस्थान कि स्थलाकृति वेगनर सिद्धान्त पर आधारित है।
  • राजस्थान की जलवायु उष्ण कटिबन्धीय (शुष्क /अर्द्ध शुष्क प्रकार की जलवायु)

 

राजस्थान की सीमाएँ

  • उत्तरी और उत्तरी सीमा – पूर्वी पंजाब तथा हरियाणा से,
  • पूर्वी सीमा उत्तरप्रदेश एवं मध्यप्रदेश से
  • दक्षिणी पूर्वी सीमा मध्यप्रदेश से तथा
  • दक्षिणी और दक्षिणी-पश्चिमी सीमा क्रमश: मध्य प्रदेश तथा गुजरात से संयुक्त रूप से लगती है।
  • राजस्थान की पश्चिमी सीमा पाकिस्तान से लगी हुर्इ है।
  • राज्य की कुल स्थल सीमा 5920 किमी. है। जिसमें से 1070 किमी. अंतर्राष्ट्रीय सीमा (रेडक्लिफ) पाकिस्तान से लगती है।
  • राजस्थान की अंतर्राज्यीय सीमा 4850 किमी. है
  • Tricks – (SBBJ) श्रीगंगानगर बीकानेर, बाड़मेर, जैसलमेर जिले पाकिस्तान की सीमा को स्पर्श करती है।
  • पाकिस्तान से लगने वाली सार्वधिक लम्बी सीमा जैसलमेर की है और सबसे छोटी सीमा बीकानेर की है।

पाकिस्तान की सीमा को स्पर्श करने वाले जिलों का अवरोही  क्रम

  1. जैसलमेर – 464 किमी
  2. बाड़मेर – 228 किमी.
  3. श्रीगंगानगर – 210 किमी
  4. बीकानेर – 168 किमी.
  • पाकिस्तान के दो प्रान्तो के 3 जिलो की सीमा राजस्थान से लगती है।
  • बहावलपुर – राजस्थान की सीमा इस पाकिस्तान जिले से सबसे अधिक स्पर्ष करती है।
  • खैरपुर जिले (सिंध प्रांत) जो राजस्थान की सीमा को स्पर्श करते है।
  • (पंजाब प्रांत) मीरपुर,

 

  • रेडक्लिफ रेखा (अंतर्राष्ट्रीय सीमा रेखा) उत्तर में श्रीगंगानगर जिले के हिन्दुमल कोट से प्रारम्भ होकर दक्षिण में बाड़मेर जिले के शाहगढ़ (बाखासर गांव) में समाप्त होती है।
  • अंतर्राज्यीय सीमाओं में राजस्थान की सर्वाधिक लम्बी अंतर्राज्यीय सीमा मध्य प्रदेश (1600 किमी.) से लगती है। तथा कम अंतर्राज्यीय सीमा पंजाब (89 किमी.) राज्य से लगती है।
  • श्री गंगानगर – पंजाब के साथ सर्वाधिक सीमा।
  • हनुमानगढ़ – पंजाब के साथ न्यूनतम सीमा।
  • हनुमानगढ़ – हरियाणा के साथ सर्वाधिक सीमा।
  • जयपुर – हरियाणा के साथ न्यूनतम सीमा।
  • भरतपुर – उत्तरप्रदेश के साथ सर्वाधिक सीमा।
  • धौलपुर – उत्तरप्रदेश के साथ न्यूनतम सीमा।
  • झालावाड़ – मध्यप्रदेश के साथ सर्वाधिक सीमा।
  • भीलवाड़ा – मध्य प्रदेश के साथ न्यूनतम सीमा
  • उदयपुर – गुजरात के साथ सर्वाधिक सीमा।
  • बाड़मेर – गुजरात के साथ न्यूनतम सीमा।
  • झालावाड़ – सर्वाधिक अन्तर्राज्यीय सीमा रेखा वाला राज्य
  • बाड़मेर – न्यूनतम अन्तर्राज्यीय सीमा रेखा वाला जिला
  • पाकिस्तान के सबसे नजदीक राजस्थान का सीमावर्ती जिला मुख्यालय श्रीगंगानगर है जबकि सीमावर्ती जिलों में सबसे दूर जिला मुख्यालय बीकानेर है।

राज्यों की सीमाओं से लगने वाले राजस्थान के जिले

  • पंजाब से राजस्थान के दो जिले लगे हुए है-
  • हरियाणा की सीमा से लगे हुए जिले सात है- हनुमानगढ़, चूरू, झंझुनूं, सीकर, जयपुर, अलवर, भरतपुर ।
  • उत्तर प्रदेश की सीमा से दो जिले लगे हुए है- भरतपुर, धौलपुर।
  • मध्य प्रदेश की सीमा से दस जिले लगे हुए है- धौलपुर, करौली, सवार्इमाधोपुर, कोटा, बाराँ, झालावाड़, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा, बाँसवाड़ा व प्रतापगढ़।
  • गुजरात की सीमा से छ: जिले लगे हुए है- बाँसवाड़ा, डुंगरपुर उदयपुर, सिरोही, जालौर व बाड़मेर।
  • राजस्थान के आठ जिले ऐसे है जिनकी सीमा किसी भी राज्य या अन्य देश से नहीं मिलती है- पाली, जोधपुर, नागौर, दौसा, टोंक, बुँदी, अजमेर, व राजसमंद। (सूत्र:- पाबू जोरा अटो दौना) या (टोपाजो BRAND)
  • पाली जिले की सीमा सर्वाधिक जिलों (8) अजमेर, बाड़मेर जालौर, जोधपुर, नागौर, राजसंमद, सिरोही व उदयपुर से मिलती है। (सूत्र जोराबा उसी जाना)

राजस्थान के साथ अंतर्राष्ट्रीय अंतर्राज्यीय सीमा के जिले

पंजाब 2 मुक्तसर, फजिल्का (FM )
हरियाणा 8 सिरसा, फतेहपुर, हिसार, भिवानी, महेन्द्रगढ़, रेवाड़ी, गुडगाँव, मेवात (सूत्र:- सिर पफते हि महेन्द्रभवानी रेखा गुड मेवा)
उत्तर प्रदेश 2 आगरा, मथुरा (आम)
मध्य प्रदेश 10 झाबुआ, रतलाम, मंदसौर, नीचम, शाजापुर राजगढ़, गुना, शिवपुरी, श्योपुर, मुरैना (सूत्र:- श्योमु शिगुरानी शाम रझा)
गुजरात 6 कच्छ, बनासकांठा, साबरकांठा, अरावली, महीसागर, दाहोद (सूत्र:- अकम दा साब)

 

 

 

 

 

 

 

राजस्थान के जिले की आकृति -एक परिचय

दोैसा धनुश से मिलती जुलती है।
जोधपुर ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप से मिलती जुलती है।
सीकर प्याले, अर्द्ध चंद्र के समान
राजसमन्द मस्तिश्क पर लगाये जाने वाले टिके के समान
जोधपुर मयुराकार
करौली बतख
धौलपुर बतख
उदयपुर घोडे कि नाल/इल्ली
चितौड़ घोडे कि नाल (इल्ली)
जैसलमेर सात भुजाओ आकृति (अनियमित बहुभुज)
भीलवाडा आयताकार
टोंक राजस्थान कि आकृति के समान व पंतगाकार/चतुर्भुजाकार के समान
अजमेर त्रिभुजाकार आकृति वाला। इस जिले में मानव बसावट/संरचना का घनत्व अधिक है।

Your content

2 thoughts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *